IGRSUP: स्टाम्प एवं रजिस्ट्रेशन विभाग, विवाह पंजीकरण, संपत्ति पंजीकरण

उत्तर प्रदेश संपत्ति पंजीकरण, यूपी विवाह पंजीकरण, उत्तर प्रदेश स्टाम्प एवं रजिस्ट्रेशन विभाग, IGRSUP Office login, IGRSUP UP Officer login, Search Property igrsup, igrsup login uttar pradesh online property registration 2019 up igrs up registration igrsup office login igrsup gov in sign in index aadhaar based marriage igrsup karyalaya login default.

दोस्तों आज हम इस पोस्ट के माध्यम से आपको IGRSUP: स्टाम्प एवं रजिस्ट्रेशन विभाग, विवाह पंजीकरण, संपत्ति पंजीकरण के बारे जानकारी देने जा रहे हैं। दोस्तों जैसा की आप सभी लोग जानते ही हैं कि आज के समय में हर काम ऑनलाइन होने लगे हैं। तो ऐसे में सरकार भी हर विभाग के लिए ऑनलाइन प्लेटफार्म को बनाने में फोकस कर रही हैं। इसीलिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश के लोगो की सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए यूपी उत्तर प्रदेश संपत्ति पंजीकरण ऑनलाइन कर दिया है। तो आज की पोस्ट में हम आपको स्टाम्प एवं रजिस्ट्रेशन विभाग, विवाह पंजीकरण, संपत्ति पंजीकरण से कैसे लाभ ले सकते हैं।

IGRSUP Property & Marriage Registration 2019

IGRSUP क्या है?: स्टाम्प एवं रजिस्ट्रेशन विभाग उत्तर प्रदेश सरकार का एक महत्वपूर्ण विभाग है। इस विभाग द्वारा प्रमुखतः अचल सम्पत्ति के लेखपत्रों के रजिस्ट्रीकरण का कार्य किया जाता है। इसके अतिरिक्त पक्षकारों के विकल्प पर अन्य प्रकार के लेखपत्रों की भी रजिस्ट्री की जाती है। लेखपत्रों की रजिस्ट्री के अतिरिक्त यह विभाग रजिस्ट्रीकृत लेखपत्रों को संरक्षण करता है और लेखपत्रों को जनसाधारण हेतु सुलभ बनाता है।

स्टाम्प एवं रजिस्ट्रेशन विभाग का कार्य प्रमुखतः दो अधिनियमों–रजिस्ट्रेशन अधिनियम 1908 एवं भारतीय स्टाम्प अधिनियम 1899 के अन्तर्गत किया जाता है। रजिस्ट्रीकरण अधिनियम के प्रावधानों के अनुसार विभाग द्वारा लेखपत्रों की रजिस्ट्री की जाती है। रजिस्ट्री के उपरान्त लेखपत्रों का संरक्षण किया जाता है तथा आवश्यकतानुसार साक्ष्य अथवा अन्य प्रयोजन से संरक्षित लेखपत्रों की प्रतियां न्यायालय एवं जनसामन्य को उपलब्ध करायी जाती है। यह विभाग भारतीय स्टाम्प अधिनियम के अन्तर्गत लेखपत्रों पर देय स्टाम्प शुल्क की वसूली का कार्य भी करता है। उ०प्र० सरकार के राजस्व अर्जन में स्टाम्प शुल्क एक प्रमुख स्त्रोत है।

यूपी ऑनलाइन संपत्ति पंजीकरण प्रक्रिया

सभी खरीदारों को संपत्ति की रजिस्ट्री से पहले ऑनलाइन पंजीकरण करना होगा। ई-रजिस्ट्री की विधि हिंदी में सेट है। ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया नीचे दी गई है: –

  • सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट igrsup.gov.in पर जाएं
  • Then on the homepage, click the “सम्पत्ति पंजीकरण” link or directly click this link
  • बाद में, नीचे दिखाए अनुसार एक पंजीकरण पृष्ठ दिखाई देगा: –

IGRSUP Property & Marriage Registration

  • तदनुसार सभी विवरणों को सही ढंग से भरें स्टाम्प ड्यूटी की गणना जो उम्मीदवार को ऑनलाइन मोड के माध्यम से भुगतान करना है।
  • ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया (भुगतान के साथ) को पूरा करने के बाद, उम्मीदवारों को रजिस्ट्री की तारीख के रूप में नियुक्ति की तारीख मिलेगी।
  • सभी विवरण पंजीकृत मोबाइल नंबर पर एसएमएस के माध्यम से भेजे जाएंगे। इसके अलावा, उम्मीदवारों को नियुक्ति तिथि पर उप-पंजीयक कार्यालय में उपस्थित होना होगा।
  • अंत में, खरीदार को ऑनलाइन स्टाम्प खरीदने के लिए अद्वितीय कोड प्राप्त होगा जो एक उम्मीदवार को संपत्ति रजिस्ट्री प्राप्त करने के लिए संबंधित उप-पंजीयक कार्यालय में जमा करना होगा।

ऑनलाइन संपत्ति पंजीकरण के लाभ

उम्मीदवार इस ऑनलाइन पंजीकरण सुविधा से निम्नलिखित लाभों का लाभ उठा सकते हैं: –

  • अब उम्मीदवारों को यहां और वहां घूमने की जरूरत नहीं है और संपत्ति पंजीकरण प्राप्त करने के लिए रजिस्ट्रार कार्यालय में कई घंटों तक इंतजार करना होगा।
  • यह ई-सेवा ऑनलाइन प्रक्रिया की तर्ज पर बनाई गई है जिसे पासपोर्ट कार्यालय द्वारा अपनाया जाता है।
  • इसके अलावा, उम्मीदवार आवासीय और वाणिज्यिक दोनों संपत्तियों के लिए इस ई-सेवा का उपयोग कर सकते हैं।
  • यह ई-सेवा रजिस्ट्री के अधिकांश कार्य ऑनलाइन करेगी जिसमें स्टांप पेपर की खरीद शामिल है।

ऑनलाइन संपत्ति पंजीकरण सुविधा Facility

राष्ट्रीय सूचना केंद्र ने इस ई-सेवा को डिजाइन किया है जिसे उत्तर प्रदेश सरकार प्रभावी ढंग से लागू होगा: –

  • प्रारंभिक चरण – पहले चरण में, राज्य सरकार। यह योजना यूपी के 5 शहरों –
    लखनऊ, बरेली, मुरादाबाद, कासगंज, बाराबंकी में शुरू होगी।
  • विस्तार – राज्य सरकार। इस योजना को अन्य शहरों में भी विस्तारित करने जा रहा है। इस उद्देश्य के लिए, यूपी सरकार। इस प्रकार कई उपाय कर रहा है: –
    • राजस्व विभाग, यूपी अधिकारियों को ऑनलाइन संपत्ति पंजीकरण की प्रक्रिया को समझने और ई-पंजीकरण से संबंधित प्रश्नों को संभालने के लिए प्रशिक्षण दे रहा है।
    • इसके अलावा, राज्य सरकार ने 11 जिलों में पायलट प्रोजेक्ट शुरू किए हैं।

संबंधित रजिस्ट्रार कार्यालय दस्तावेजों के पंजीकरण के उद्देश्य के लिए एक तारीख तय करेगा। इसके अलावा, उम्मीदवारों को बिक्री प्रक्रिया को निष्पादित करने के लिए एक और तारीख मिलेगी।

उत्तर प्रदेश में रजिस्ट्रीकरण अधिनियम के अन्तर्गत रजिस्ट्रीकरण मंडलों की सूची:-

दोस्तों इसमें आने वाले जिलो की सूची हमने यहाँ उपलब्ध करा दी है आप सभी इस सूची को देख सकते हैं —

  1. लखनऊ
  2. सीतापुर
  3. कानपुर
  4. बरेली
  5. मुरादाबाद
  6. मेरठ
  7. गौतमबुद्ध नगर
  8. सहारनपुर
  9.  अलीगढ़
  10. आगरा
  11. झांसी
  12. चित्रकूट
  13. मिर्जापुर
  14. इलाहाबाद
  15. वाराणसी
  16. आजमगढ़
  17. गोरखपुर
  18. बस्ती
  19. फैजाबाद
  20. देवीपाटन मण्डल

लेखपत्र पंजीकरण, रजिस्ट्री फीस, प्रक्रिया और अन्य महत्वपूर्ण जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें…

igrsup मॉडल लेखपत्र डाउनलोड करने के लिए निम्नलिखित लिंक पर क्लिक करे…

तो दोस्तों यहां हमने स्टाम्प एवं रजिस्ट्रेशन विभाग, विवाह पंजीकरण के सम्बंधित सभी महत्वपूर्ण जानकरी आप सभी के साथ शेयर कर दी है अगर आप को कोई जानकारी समझ न आये या इसमें पंजीकरण करते समय किसी तरह की समस्या हो तो आप हमें कमेंट के माध्यम से बता सकते हैं हम आपकी समस्या हल करेंगे।

Leave a Comment